Tags

Related Posts

Share This

राज्यपालों को पत्रकारों से कोई शिकायत नहीं

top story

लखनउ वर्किंग जर्नलिसट द्वारा यूपी प्रेस क्लब में मीडिया संवाद

संवाददाता

लखनउः उत्तर प्रदेश के राज्यपाल श्री राम नाईक ने पत्रकारों से कोई शिकायत नहीं है। विवादों में घिरे रहने का आरोप झेलने वाले राज्यपाल का कहना है कि उन्हें लखनऊ  दिल्ली और मुम्बई के किसी भी पत्रकार ने कभी मिस कोट नहीं किया।
राज्यपाल लखनऊ वर्किंग जर्नलिस्ट यूनियन द्वारा यूपी प्रेस क्लब में आयोजित मीडिया से संवाद कार्यक्रम में पत्रकारों के प्रश्नों का उत्तर दे रहे थे। इस संवाद कार्यक्रम का आयोजन श्री राम नाइक की 81वीं वर्षगांठ से एकदिन पूर्व किया गया था।
राज्यपाल राम नाइक ने महाराष्ट की पत्रकारिता में विशिष्ट स्थान बनाने वाले उत्तर प्रदेश मूल के चार वरिष्ठ पत्रकारों को सम्मानित किया। दोपहर सामना के सम्पादक प्रेम शुक्ला, दैनिक जागरण मुम्बई के ब्युरो प्रमुख ओम प्रकाश तिवारी, मेटरो एडिटर नव भारत, तथा पंजाब केसरी मुम्बई के ब्यूरो प्रमुख राम किशोर त्रिवेदी शामिल हैं।
राज्यपाल ने कहा कि महाराष्ट्र में अच्छे उत्तर भारतीय बिल्कुल सुरक्षित हैं। मुम्बई को बनाने में सभी प्रदेशों के लोगों का योगदान रहा है। उन्होने कहा कि देश की आर्थिक राजधानी होने के कारण भीख मांगने से लेकर उद्यमी तक मुम्बई पहुच जाते हैं।
इससे पहले इण्डियन फेडरेशन आफ वर्किग जर्नलिस्ट के अध्यक्ष के. विक्रमराव ने राज्यपाल का स्वागत करते हुए कहा कि राज्यपाल ने अपने जीवन के 81वें साल में बड़ा महत्व है। श्री राव ने कहा कि वी वी गिरी के बाद राम नाईक ऐसे राज्यपाल हैं जो हमेशा खबरों में रहते हैं। क्योंकि उन्होने राज्य की राजनीति को जीवन्त बना दिया है। इसी तरह वी वी गिरि ने सी एम का स्लीविंग पार्टनर बनने से इन्कार कर दिया था। श्री राव ने राज्यपाल से अनुरोध किया कि वे सरकार को राय दें  िक वे अखबार मालिकों से मजीठिया वेज बोर्ड अवार्ड लागू करायें।
इण्डियन फेडरेशन आफ वर्किंग जर्नलिस्ट के राष्टरीय सचिव हेमंत तिवारी ने बताया कि दिल्ली की ही तरह महाराष्ट्र में भी अब उत्तर प्रदेश से ताल्लुक रखने वाले पत्रकारों का प्रभाव बढ़ा है। उन्होने आईएफ़डब्लूजे के लखनऊ इकाई के प्रयास की प्रशंसा की है। श्री तिवारी ने उम्मीद जताई कि पत्रकारिता में प्रदेश के गौरव बढ़ाने वाले राज्यों में कार्यरत अन्य प्रमुख पत्रकारों को सम्मान देने के कार्यक्रम नियमित रूप् से होने चाहिये।
उत्तर प्रदेश श्रमजीवी पत्रकार युनियन के अध्यक्ष हसीब सिददीकी ने कहा कि राज्यपाल अपने कार्यकाल में तीसरी बार हमारे कार्यक्रमों में शामिल हुए हैं। महामंत्री पी के तिवारी लखनऊ इकाई के अघ्यक्ष सिद्धार्थ कलहंस और मंत्री विनीता रानी विन्नी, यूपी प्रेस क्लब के सचिव जे पी तिवारी ने राज्यपाल का स्वागत किया।